21.1 C
Delhi
Profile Photo

डॉ. मनीष श्रीवास्तवOffline

0 out of 5
0 Ratings
  • नारी शक्ति

    तुम जननी हो, तुम शक्ति हो, आश्रिता ना समझना तुम नारी हो, तुम सबला हो, अबला ना समझना   पुरुष और नारी के भेद भाव को न पलने देना  भ्रूण के हत्यारों से अजन्मी कोख न मरने देना मौन की तडफन को तुम तांडव...

    Read More

Media

Recent Posts

नारी शक्ति