व्यंग्यिका

” ब्रेकिंग न्यूज़”

कोई अच्छा सच्चा
काम कर रहा हो
पर इन्हें उससे क्या
बस बनी बनाई न्यूज़ चाहिए
न्यूज़ देने वाला एक रसूख़ चाहिए
इन्हें तो बस ब्रेकिंग न्यूज़ चाहिए।

सच पर शोध और
फॉलोअप ये करते नहीं
फिर भी सच्ची पत्रकारिता का
दम भरने से ये डरते नहीं
हिंदी पेपर है तो क्या
हिंग्लिश प्रयोग करने से
कभी उबरते नहीं।

पेड न्यूज़ बढ़ बढ़ कर छापें
सच्चाई को परे रख, पैसों को जापें
जो सच न दिखा सके ऐसा
आईना चकनाचूर चाहिए
हमें तो पत्रकारिता जहालत
बेईमानी से दूर चाहिए
पर इन्हें ब्रेकिंग न्यूज़ चाहिए।

©️अनुपमा अनुश्री

Sending
User Review
( votes)
यह भी पढ़ें -  बुरी औरत हूँ मैं: वन्दना गुप्ता

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.