33.1 C
Delhi
- Advertisement -spot_img

CATEGORY

पुस्तक

पुस्तक समीक्षा -सपनों के करीब हों आंखें – जयप्रकाश मानस

जीवन का मर्म है 'सपनों के क़रीब हों आंखें' 'कविता होगी तो ' हर लड़ाई के बाद/सिर्फ मनुष्य बच रहेगा/मनुष्य के कुछ स्वप्न होंगे/जिसमें होगी अधिक चहचहानेवाली चिड़िया/और चिड़िया...

कल्चर वल्चर- ममता कालिया

सांस्कृतिक यथार्थ का सत्यान्वेषण राहुल देव वरिष्ठ कथाकार ममता कालिया का नया उपन्यास ‘कल्चर वल्चर’ वर्तमान साहित्यिक-सांस्कृतिक परिवेश का रचनात्मक सत्यान्वेषण करता है। कोलकाता की एक...

उत्कृष्ट व्यंग्य रचनाएँ, व्यंग्य संकलन, सं. प्रेम जन्मेजय

उत्कृष्ट व्यंग्य रचनाओं का बेहतरीन संकलन राहुल देव   उत्कृष्ट व्यंग्य रचनाएँ (दो खण्डों में)/ व्यंग्य संकलन/ सं. प्रेम जन्मेजय/ 2017/ यश पब्लिकेशन, नई दिल्ली/ व्यंग्य को सुशिक्षित...

ज़िंदगी एक कण है : राकेश मिश्र

काशित काव्य संग्रह  ‘ज़िन्दगी एक कण है’ में छोटी-छोटी कुल एक सौ तेरह कविताएँ संकलित हैं, जिसका व्याप बहुत बड़ा है।

रामायण पर आधारित पुस्तकें

रामायण पर आधारित पुस्तकें पढ़ें। यहाँ विभिन्न भाषाओं की रामायण हिंदी में उपलब्ध है

पंचरतंत्र की कथाएँ

पुस्तक समीक्षा  तंत्र को अनावृत करती ‘पंचरतंत्र की कथाएँ’ समीक्षक: राहुल देव व्यंग्य के लगभग पुरुषोचित समझ लिए गए क्षेत्र में नई पीढ़ी की स्त्री व्यंग्यकार भी...

विषपायी होता आदमी

पुस्तक समीक्षा अन्याय के खिलाफ क्रांति के स्वर समीक्षक: राहुल देव एक संवेदनशील मनुष्य जब व्यवस्था में मौजूद विसंगतियों को देखकर चुप नही रह पाता तब उसकी...

पीठ पर रोशनी

समय की रोशनी में खिलता जीवन का चेहरा समीक्षक: राहुल देव   ‘पीठ पर रोशनी’ युवा कवि नीरज नीर का दूसरा कविता संग्रह है जिसे मुंबई के...

बिगड़ती हुई आबोहवा

बिगड़ती हुई आबोहवा समीक्षक- राहुल देव समकालीन कविता की एक पीढ़ी वह भी है जो नई कविता आन्दोलन के बाद उभरी। उस पुरानी पीढ़ी के कुछ...

जी-मेल एक्सप्रेस । G-male Express

पुस्तक समीक्षा                                                  पुरुष वेश्यावृत्ति और यौनाचार पर केन्द्रित विशिष्ट समकालीन उपन्यास ‘जी-मेल एक्सप्रेस’ समीक्षक : डॉ. विजय कुमार मिश्र हिंदी संसार में सुपरिचित कथाकार-कवयित्री अलका...

Latest news

- Advertisement -spot_img