20.1 C
Delhi
- Advertisement -spot_img

CATEGORY

हिंदी साहित्य: अध्ययन सामग्री

एनसीईआरटी (NCERT) कक्षा एक से बारह की पाठ्यपुस्तक- हिंदी विषय

एनसीईआरटी (NCERT) कक्षा एक से बारह हिंदी विषय की पाठ्यपुस्तक डाउनलोड करें

उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग, सहायक प्रोफ़ेसर, हिन्दी विषय पाठ्यक्रम एवं अध्ययन सामग्री

यहाँ आप उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग, सहायक प्रोफ़ेसर, हिन्दी विषय पाठ्यक्रम एवं उससे अध्ययन सामग्री प्राप्त कर सकते हैं।

कार्यालयी हिंदी एवं पत्र लेखन

कार्यालयी हिंदी एवं पत्र लेखन कार्यालयी हिंदी : अर्थ, स्वरूप एवं परिभाषा । कार्यालय की कार्य-पद्धति और भाषा । ई-कार्यालय: परिचय, कार्यपद्धति एवं उपयोगिता । पत्र-लेखन और...

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के तहत चार वर्षीय बी.ए. हिंदी पाठ्यक्रम

उत्तर प्रदेश के विभिन्न विश्वविद्यालयों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के तहत चार वर्षीय बी.ए. हिंदी पाठ्यक्रम 2021-2022 PROGRAMME SPECIFIC OUTCOMES बी. ए. प्रथम...

हिंदी विभाग पाठ्यक्रम

यहाँ आप देश-विदेश के विभिन्न संस्थानों के हिंदी विभाग के पाठ्यक्रम को प्राप्त कर सकते हैं।

आदिकाल पर आधारित पुस्तकें

यहाँ पर आप आदिकाल पर आधारित आलोचनात्मक पुस्तकें पढ़ सकते हैं।

हिंदी साहित्य का इतिहास, भाषा इतिहास की पुस्तकें

यहाँ हिंदी साहित्य का इतिहास, भाषा इतिहास से संबधित पुस्तकों की सूची है, जिसे आप ऑनलाइन पढ़ सकते हैं।

एनटीए यूजीसी नेट हिंदी साहित्य का पाठ्यक्रम एवं उनसे संबधित सामग्री

यहाँ एनटीए द्वारा आयोजित राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) में हिंदी साहित्य विषय का सम्पूर्ण पाठ्यक्रम, उनमें शामिल रचनाएँ एवं संबधित महत्वपूर्ण सामग्री एक जगह प्राप्त कर सकते हैं।

अंधेर नगरी- भारतेंदु हरिश्चंद्र

1881 में भारतेंदु हरिश्चंद्र का ताजा नाटक 'अंधेर नगरी' काशी की जानी-मानी नाटक संस्था नेशनल थियेटर (जिसके संरक्षक खुद भारतेंदु थे) की रंगमंडली द्वारा काशी के दशाश्वमेध घाट पर खेला गया।

कफ़न- प्रेमचंद

‘कैसा बुरा रिवाज है कि जिसे जीते जी तन ढाँकने को चीथड़ा भी न मिले, उसे मरने पर नया कफ़न चाहिए।’

Latest news

- Advertisement -spot_img