सृजनलोक प्रकाशन द्वारा युवा सृजन पत्रिका का यह ऑनलाइन आगाज़ है...हमेशा युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए सृजनलोक दक्षिण में कई वर्षों से काम कर रहा है - इस पत्रिका के आगाज़ के साथ ही आप सभी के लिए एक घोषणा भी है -हर्ष के साथ आपसे साझा कर रहे हैं -आपकी कहानी, कविताएं, लघुकथा, निबंध, संस्मरण और पेंटिंग, रेखाचित्र ..को साल भर में देखा-परखा जाएगा और प्रधान संपादक, निर्णयक मण्डल, सम्पादक मण्डल सभी की सहमति से उनको वार्षिक अंक के लिए चुना जाएगा जिसे सृजनलोक पत्रिका का विशेषांक के रूप में निकाला जाएगा।
साथ ही इनमें से कहानी, कविता, रेखा चित्र और पेंटिंग्स का चुनाव भी होगा - इसमे जो चुनाव होगा वह सीधा-सीधा ईमेल के आधार पर होगा...आपकी कहानी, कविता और पेंटिंग्स साथ ही रेखा चित्र को सृजनलोक सम्मान भी दिया जाएगा -नकद राशि -1500 रु+ मोमेंटो+ शाल, आपके खाने-रहने की व्यवस्था भी की जाएगी (ये आपको सृजनलोक के वार्षिक आयोजन में ससम्मान प्राप्त होगा।)। विशेष बात यह भी है कि अगर आपका रेखांकन या पेंटिंग्स हमे पसन्द आती है तब हम सृजनलोक द्वारा प्रकाशित पुस्तक के मुखपृष्ठ के लिए रखेंगे और साथ ही आपको ससम्मान 500₹ भेंट स्वरूप दिया जाएगा।
आप सभी से यह भी आग्रह है कि हमे सहयोग करने और हमारे हिंदी और साहित्य को जन-जन तक पहुंचाने के अभियान में हमारे साथ जुड़े और साथियों को जोड़ें।
हमारी प्रिंटेड सृजनलोक त्रैमासिक पत्रिका की सदस्यता ले।
साथ ही हमे सहयोग करने के लिए हमारे ऑनलाइन पत्रिका को भी सहयोग राशि जरूर दें। जिससे कि हम मजबूती से काम कर सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.