भारत पर आफत आ गई”

कोरोना नाम की आफत भारत पर आ गई
आफत सभी की जान पर आ गई,
जीवन की नदी उफान पर आ गई
भारत पर आफत आ गई।

हार चुके हिम्मत और हौसले
सबकी निगाहें कोरोना पर आ गई,
हर जगह कोरोना संक्रमण आ गई
भारत पर आफत आ गई।

मंदिर- मस्जिद से टूट चुकी है आशा
अब उम्मीदें डॉक्टरों पर आ गई,
पता नहीं कब कोरोना संक्रमण का खात्मा होगा
भारत पर आफत आ गई।

अब ये जिंदगी ठहर सी गई है
ना ठीक से पढ़ाई हो पा रही है ना व्यापार,
सब ठप पड़ गई है
भारत पर आफत आ गई।

मर कर भी ना मिटने दुंगा आबरू
जबकि आंच हमारे भारत पर आ गई,
कोरोना संक्रमण के बारे में ठीक से किसी को पता नहीं और सारा दोष मोदी जी पर आ गई
भारत पर आफत आ गई।

सोशल डिस्टेंस का ना पालन करके
मोदी जी को नहीं अपने परिवार को बीमार कर गई,
हमारे हिंदुस्तान पर आफत आ गई
भारत पर आफत आ गई।
नेहा रजक
रानीगंज
जिला- पूर्व बर्द्धमान,
राज्य- पश्चिम बंगाल

यह भी पढ़ें -  अंत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.